International Journal of Advanced Educational Research


ISSN: 2455-6157

Vol. 2, Issue 5 (2017)

प्राचीन भारत में धातु और रसायन (1500 ई. पू. से 600 ई. पू.)

Author(s): डाॅ0 बजरंग लाल
Abstract: इस आलेख के माध्यम से शोधार्थी द्वारा धातु व रसायन की शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डाला गया है। लेखक ने 1500 ई.पू. से 600 ई. पू. तक के प्रमाणों का अध्ययन करके आलेख के माध्यम से सटीक ढंग से समझाने का प्रयास किया है जिसमें वह पूर्णतया सफल रहे हैं। धातु व रसायन शिक्षा के अन्र्तगत क्षार बनाने की प्रक्रिया और उपयोग, पारा बनाने की प्रक्रिया के अन्र्तगत लोहवेध व देहवेध, ताम्र धातु, सोने से स्वर्ण भस्म, लोहे से लौह चूर्ण, लोहमल व औषधियों के बनाने के बारे में संक्षेप में लिखकर ज्यादा समझाना शोधार्थी के गहन अध्ययन का नतीजा है। उनका यह छोटा सा आलेख गागर में सागर के समान है।
Pages: 452-454  |  1787 Views  1415 Downloads
library subscription