International Journal of Advanced Educational Research


ISSN: 2455-6157

Vol. 3, Issue 2 (2018)

किशोरावस्था के विद्यार्थियों के शैक्षिक उपलब्धि पर गृह परिवेश के प्रभाव का अध्ययन

Author(s): डाॅ. पी. के. नायक, मीनाक्षी महंत
Abstract: किशोर बालक की सामाजिक भावना प्रबल होती है। विद्यार्थियों की शैक्षिक उपलब्धि सबसे अधिक उसके पारिवारिक वातावरण से प्रभावित होती है अतः अभिभावकों का कर्तव्य है कि वे घर में बालकों के लिये ऐसे वातावरण का निर्माण करें कि बच्चों का सर्वांगीण विकास संभव हो सके। अभिभावकों को चाहिये कि वह अपनी संतानों चाहे वह लड़के हों या फिर लड़कियाँ दोनों को शिक्षा प्रदान करने हेतु समान अवसर उपलब्ध करवायें। अभिभावकों को अपने संतानों को सुरक्षित, विश्वस्त और सहयोगी पारिवारिक वातावरण प्रदान करना चाहिये जिससे कि उनमें अपने मित्रों एवं पारिवारिक सदस्यों के साथ समायोजन की भावना पनपे। शोधार्थी ने अपने शोध में ग्रामीण एवं शहरी विद्यालय के विद्यार्थियों में गृह परिवेश में उनकी शैक्षिक उपलब्धि पर प़ढ़ने वाले प्रभाव को समझने का प्रयास कर सके।
Pages: 549-552  |  2660 Views  1380 Downloads
library subscription