International Journal of Advanced Educational Research

International Journal of Advanced Educational Research


International Journal of Advanced Educational Research
International Journal of Advanced Educational Research
Vol. 1, Issue 5 (2016)

गुटनिरपेक्ष आन्दोलन का डरबन सम्मेलन


विनोद के0 चाहर

प्रस्तुत शोध पत्र गुटनिरपेक्ष आन्दोलन के डरबन सम्मेलन की रूपरेखा को प्रस्तुत करता है तथा इस सम्मेलन में भारतीय कूटनीति द्वारा अपने राष्ट्रीय हितों को सुरक्षित करते हुए विकासशील देशों के विभिन्न मुद्दों को किस प्रकार से रखा गया। यद्यपि भारतीय कूटनीतिज्ञों ने डरबन में गम्भीर बौद्धिक और कूटनीतिक प्रयास किया कि भारत अपने परमाणु परिक्षणों के कारण निन्दा का विषय न बने अतः अन्ततः परमाणु परीक्षणों पर भारत को किसी प्रकार की कड़ी आलोचना का शिकार नहीं होना पड़ा। यह सम्मेलन जब आयोजित हुआ तो वैश्विक स्तर पर अनेक परिवत्रन हो रहे थे शीत युद्ध की समाप्ति के साथ-साथ पूर्वी यूरोप के टूटने का जो सिलसिला शुरू हुआ था, वह राष्ट्रीयताओं, जातियताओं एवं धार्मिक दृष्टिकोणों को कट्टरता की ओर ले जा रहा था। राष्ट्र-राज्य व्यवस्था का विघटन होता जा रहा था। जातीय, एथनिक तथा सांस्कृतिक टकराव बढ़ रहे थे।
Download  |  Pages : 54-58
How to cite this article:
विनोद के0 चाहर. गुटनिरपेक्ष आन्दोलन का डरबन सम्मेलन. International Journal of Advanced Educational Research, Volume 1, Issue 5, 2016, Pages 54-58
International Journal of Advanced Educational Research International Journal of Advanced Educational Research